भोजपुरी के सुपर स्टार खेसारी लाल यादव के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, चेक बाउंस कराने का आरोप

भोजपुरी सिंगर और एक्टर खेसाली लाल यादव के खिलाफ गैरजमानती वारंट जारी हुआ है. उनके खिलाफ छपरा की एक अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी किया है. खेसाली लाल यादव पर आरोप है कि उन्होंने जमीन खरीदने के बाद जिस चेक से पेमेंट किया था वो बाउंस हो गया. इसके बाद इस मामले में कोर्ट ने जब उन्हें हाजिर होने का आदेश दिया तो वो हाजिर नहीं हुए.

ठीक है गाना गाकर फेमस हुए भोजपुरी गायक और एक्टर (Bhojpuri singer actor)  खेसारी लाल यादव (Khesari Lal Yadav) के लिए अब सबकुछ ठीक नहीं है. उनके खिलाफ छपरा जिले की अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी किया है.
मशहूर भोजपुरी गायक और कलाकार खेसारी लाल यादव को बिहार में अदालती कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा. खेसारी लाल यादव पर जमीन खरीदने के बाद जिस चेक से उसका भुगतान किया उसे बाउंस कराने का आरोप है.

मृत्युंजयनाथ पांडे ने कराया था FIR

खेसारी लाल यादव के खिलाफ मृत्युंजयनाथ पांडे ने रसूलपुर थाना में 16 अगस्त 2019 को प्राथमिकी दर्ज कराई थी. जिसमें कहा गया है कि अपनी खरीदी हुई जमीन को बेचने के लिए उनकी शत्रुघ्न कुमार उर्फ खेसारी लाल यादव की पत्नी चंदा देवी से बात हुई थी. तब दोनों के बीच 22 लाख 7 हजार रुपये में जमीन बेचने की बात हुई थी, इस जमीन की रजिस्ट्री 4 जून 2019 को एकमा रजिस्ट्री कार्यालय में हो गई.

इसके बाद जमीन की कीमत नगद रुपये के एवज में खेसारी लाल यादव ने जमीन बेचने वाले को 18 लाख रुपए का चेक दिया. जो मृत्युंजयनाथ पांडे ने 20 जून 2019 को अपने खाता में जमा कर दिया. लेकिन, चेक 24 जून को वापस आ गया. इसके बाद उन्होंने दोबारा इसे 27 जून को जमा किया तो बैंक द्वारा 28 जून 2019 को चेक बाउंस होने की जानकारी दी गई. इसके बाज जमीन बेचने वाले मृत्युंजयनाथ पांडे ने खेसारी लाल यादव पर प्राथमिकी दर्ज करवाई थी. और आरोप लगाया था कि उन्होंने जमीन की कीमत अदा करने के लिए चेक दी वो बाउंस हो गई.

हाजिर नहीं होने के बाद वारंट जारी

पुलिस ने 22 अगस्त 2020 को आरोप पत्र दायर किया गया. इसमें दफा 406 भारतीय दंड विधान 138 एनआई एक्ट के अंतर्गत दाखिल कर दिया गया. न्यायालय द्वारा 22 जनवरी 2021 को आरोपी शत्रुघ्न कुमार उर्फ खेसारी लाल यादव के खिलाफ समन जारी करने का आदेश दिया गया. पुनः 25 फरवरी 2021 को बी डब्लू निर्गत करने का आदेश दिया गया. आरोपी न्यायालय में उपस्थित नहीं हुए, उनके कोर्ट में हाजिर नहीं होने के बाद कोर्ट ने इस बार खेसारी लाल यादन के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी करने का आदेश दिया गया है.इसके बाद उन्हें अदालत में हाजिर होना होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status