Eid mubarak 2021 wishes in hindi | Eid mubarak shayari in hindi 2 lines

Happy Eid-ul-Fitr 2021 Quotes in Hindi | Eid mubarak images 2021

Eid Mubarak image 2021 wishes
Eid Mubarak image 2021 wishes

Happy Eid Qoutes in Hindi रमजान के पाक महीने में रोज़े रखने के बाद ईद का त्योहार मनाया जाता है. हालांक, ईद 29 या फिर 30 रोज़े रखने के बाद मनाई जाएगी, ये पूरी तरह से चांद पर निर्भर होता है. 12 मई को ईद का चांद देखने की अपील विभिन्न धार्मिक संगठनों द्वारा की गयी है. इस दिन चांद दिखा तो 13 मई को ईद होगी. चांद नहीं नजर आने पर 14 मई को ईद होनी तय है. यहां से भेजें ईद की अपने दोस्तों और रिश्तेदारों को शुभकामनाएं.

eid mubarak image | happy eid mubarak 2021 wishes in Hindi

-रात को नया चांद मुबारक,
चांद को चांदनी मुबारक,
फलक को सितारे मुबारक,
सितारों को बुलंदी मुबारक,
और आपको चांद रात मुबारक !

जिंदगी का हर पल खुशियों से कम न हो,
आप का हर दिन ईद के दिन से कम न हो,
ऐसा ईद का दिन आपको हमेशा नसीब हो,
जिसमे कोई दुःख और गम न हो
आपको और आपके परिवार को ईद मुबारक…

eid mubarak message in hindi | eid mubarak 2021 shayari

-चुपके से चांद की रोशनी छू जाए आपको,
धीरे से यह हवा कुछ कह जाए आपको,
दिल से जो चाहते हो वो मांग लो खुदा से,
हम दुआ करेंगे कि वो मिल जाए आपको.
चांद रात मुबारक !

Eid mubarak hindi me

-खुदा करे कि हर रात चांद बनकर आए,
दिन का उजाला सुहानी शाम बनकर आए,
कभी ना दूर हो आपके चहरे से मुस्कान,
हर दिन ऐसे मेहमान बनकर आए.
चांद रात मुबारक !

-कोई इतना चाहे तुम्हें तो बताना,

कोई तुम्हारे इतने नाज़ उठाए तो बताना,

ईद मुबारक तो हर कोई कह देगा तुमसे,

कोई हमारी तरह कहे तो बताना।

Eid Mubarak

eid mubarak shayari in hindi 2 lines

देखा ईद का चाँद तो मांगी ये दुआ रब से,

देदे तेरा साथ ईद का तोहफा समझ कर। ईद मुबारक।

ऐ चांद उनको मेरा ये पैगाम देना

खुशी का दिन और हंसी की शाम कहना

जब देखें वो तुझे तो, मेरी तरफ से उनको ईद मुबारक कहना.

Eid Mubarak in Hinglish | Happy Eid Wishesh in HIndi

1. Chupke se chand ki roshni choo jaye aapko

Dheere se yeh hawa kuch kah jaye apko

Dil se jo chahate ho maang lo khuda se

Hum dua karte hain mil jaye woh apko.

2. Khushiyo se bhari
Phoolo se dhaki
Khusbboyo me basi
Rango me saji
Sitaroon me chupi
Sapno me dhali
Aur shabnam se dhuli
Eid Ki Chand Mubarak.

 

3. Aaj se amiri garibi ke faasle na rahein.

Har insaan ek dooje ko apna bhai kahe.

Aaj sab kuch bhool ke aa gale lag ja

 

4. aoge jab ghar humare deep jalaa lenge.

Miloge jab humse Eid mana lenge,

na dosti ki koi maszid hai na mandir, jahaan maango dua tum hum wahin sir jhuka lenge.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

DMCA.com Protection Status